निबंध

समय का दुरपयोग

समय का दुरपयोग निबंध

समय का दुरपयोग निबंध सभी परीक्षा के लिए समय एक अनमोल रतन है इसको आम  बर्बाद कर  समय का दुरपयोग कैसे नहीं करें सभी जानेगे

सभी  लोग इस बात को मानते हैं कि समय की समय की कीमत बहुत है ! मानते सभी है लेकिन इसका कोई भी पालन नहीं करते है जो झिसका भी मन में आता है वो अपना काम करते है समय का कीमत देना और उसका प्रति आचरण देना दोनों हे अलग बाते है बहुत लोग समय का कीमत जानते ही है फिर भी समय का दुरपयोग करते है ! हम अपनी जीवन में समय का बेकार नहीं जाने देना है समय एक बहुमूल्य रत्न है जो सभी को समय का समझना चाहिए ! मनुष्य अपनी जीवन में कोई मनोरंजन कर समय को बर्बाद करते रहते है काफी लोग मोबाइल में अपना गेम खेलकर समय था टीवी देखकर और क्रिकेट तो कोई हम अपने जीवन में समय का महत्व समझना चाहिए ! समय एक ऐसा बहुल्मुल्य रत्न है बर्बाद नहीं करते ! कोई गप्पें में अपना समय बिताते हैं, कोई टी वी देखकर अपना समय गंबाते हैं ! हर छन हम कोई – न – कोई काम करते रहे यह बहुत मुश्किल काम है ! काम करने के बाद आराम करना भी शरीर के लिए बहुत जरुरी है !

समय दुरपयोग  का मत्वपूर्ण भूमिका 

किन्तु, यदि शरीर के आराम की आवश्यकता नहीं है, यदि तब भी हम मनोरंजन में अपना बहुमूल्य समय व्यक्तित करे तो यह समय का सदुप्योग नहीं कहा जा सकता ! हमारे देश के नेताओं में जिस प्रकार चरित्र का आभाव है , उसी तरह उनमें समय का ज्ञान नहीं है ! इनके कोई काम नियत समय पर नहीं होते हैं ! वे अपना भी समय बर्बाद करते हैं और लोग उनके इंतजार में अपना भी समय बर्बाद करते हैं क्योंकि इंतजार करने बाले स्वयं समय के ज्ञान से रहित है ! महात्मा गाँधी में समय का ज्ञान कूट-कूट कर भरा था क्योंकि वे एक आदर्श व्यक्ति थे और उनकी सिछा ऐसे देश में हुई थी जहां साधारण -से-साधारण व्यक्ति भी समय का ज्ञान रखते हैं ! चूँकि यह गुणहमारे देश के लोगों में या नेताओं में नहीं पाया जाता है, अतः यह साधारण गुण भी साधारण बन गया है ! आज किसी  भी कार्यालय में जाइये लोग अपनी मेज पर नहीं मिलेंगे ! वे लोग से करने में तल्लीन पाए जायेंगे ! समय का ज्ञान बिल्कुल नहीं है !

आजादी के बाद समय का दुरपयोग

आजादी के  बाद जिस तरह से और जिस गति से चरित्र का है हुआ है उसी गति से समय का दुरूपयोग भी बढ़ा है ! चाहे कोई छोटा कर्मचारी हो या किसी राज्य का मुख्य सचिव , किसी भी समय का ज्ञान नहीं है ! यहीं देश की आज की हालत हो गयी है !  जो बिद्यार्थी हैं और नौकरी की तलाश में है उनके लिए समय की बहुत की बहुत कीमत है ! जो समय बीत जाता हैं और नौकरी की तलाश में हैं उनके लिए समय की बहुत कीमत है ! जो समय बीत  जाता है वह लौट कर नहीं आ सकता इस बात को सभी जानते हैं ! फिर भी विद्यार्थी अपना अमूल्य समय बर्बाद करते हैं जो विद्यार्थी समय का सदुपयोग करते हैं, वे ही जीवन में आगे बढ़ते हैं ! समय बर्बाद करने बाले विद्यार्थी जीवन भर पछताते हैं !बहुत – से ऐसे विद्यार्थी हैं जो नौकरी के तलाश में रहते हैं ! यदि ऐसे विद्यार्थी खाली समय में कुछ सिखने का प्रयास करें तो उनका बहुमूल्य समय बर्बाद नहीं होगा ! अपने खाली समय का जो सदुपयोग करना जानते हैं वही बुद्धिमान व्यक्ति है !

समय हमारे जीवन में महवत्पूर्ण भूमिका है

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.